Blogger द्वारा संचालित.

What Is Rajya Sabha In Hindi | राज्यसभा क्या है जानकारी इतिहास निबन्ध

What Is Rajya Sabha In Hindi राज्यसभा क्या है जानकारी इतिहास निबन्ध: भारत में संघीय स्तर पर कानून निर्माण का कार्य संसद का हैं. संसदीय शासन व्यवस्था अपनाएं जाने के कारण भारतीय लोकतांत्रिक प्रणाली में संसद एक विशिष्ट एवं केन्द्रीय स्थान रखती हैं. संसद भारत की सर्वोच्च विधायिका हैं. संविधान के अनुच्छेद 79 के अनुसार संसद का गठन राष्ट्रपति एवं दो सदनों राज्यसभा व लोकसभा से मिलकर हुआ हैं. राज्यों की परिषद को राज्यसभा तथा लोगों के सदन को लोकसभा कहते हैं. What Is Rajya Sabha In Hindi में हम राज्य सभा को विस्तार से जानेगे.

What Is Rajya Sabha In Hindi | राज्यसभा क्या है जानकारी इतिहास

Rajya Sabha In Hindi | राज्यसभा 

राज्यसभा में दो प्रकार के सदस्य होते हैं निर्वाचित और मनोनीत. संविधान के अनुच्छेद ८० के अनुसार राज्य सभा में अधिकतम २५० सदस्य हो सकते हैं. जिनमें २३८ विभिन्न राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों के विधान मंडलों द्वारा निर्वाचित होते हैं एवं 12 सदस्यों का मनोनयन राष्ट्रपति द्वारा किया जाता हैं.

ये 12 सदस्य साहित्य, कला, विज्ञान, संस्कृति, प्रशासन, न्याय मामलों में या अपने क्षेत्र के विशेष ज्ञान एवं व्यवहारिक अनुभव होता हैं. राज्यसभा में सर्वाधिक सदस्य ३१ उत्तर प्रदेश से चुने जाते हैं. राज्यसभा एक स्थायी सदन हैं जिनका कभी विघटन नहीं होता हैं इसके सदस्यों का कार्यकाल ६ वर्ष का होता हैं.

प्रत्येक दो वर्ष में इसके एक तिहाई सदस्य अवकाश ग्रहण करते हैं जिनके स्थान पर नयें सदस्यों का निर्वाचन होता हैं. कार्यकाल समाप्ति से पूर्व किसी सदस्य का पद रिक्त हो जाने पर उसके स्थान पर निर्वाचित सदस्य उसकी शेष अवधि के लिए ही सदस्य रहता हैं.

उपराष्ट्रपति राज्यसभा का पदेन सभापति होता हैं, परन्तु वह राज्यसभा या लोकसभा का सदस्य नहीं होता हैं. राज्यसभा के उपसभापति का चुनाव सदस्यों द्वारा अपने में से ही किया जाता हैं. वर्तमान में राज्यसभा में कुल 245 सदस्य हैं जिनमें २३३ निर्वाचित व 12 मनोनीत हैं. विभिन्न राज्यों को आवंटित सीटें संविधान की चौथी अनुसूची में दी गयी हैं.

राज्यसभा सदस्य हेतु योग्यताएं
  • भारत का नागरिक हो एवं ३० वर्ष से कम की आयु का न हो.
  • सरकार में किसी लाभ के पद पर न हो.
राज्यसभा की विशिष्ट शक्तियाँ
  • राज्यसूची में वर्णित किसी विषय पर संसद द्वारा कानून बनाने का संकल्प पारित करना, ऐसा केवल राज्यसभा उपस्थित एवं मतदान करने वाले सदस्यों के दो तिहाई बहुमत से पारित कर सकती हैं.
  • राज्यसभा का स्थगन तत्समय कार्यरत सभापति कर सकता हैं. अखिल भारतीय सेवाओं का स्रजन जैसे आईपीएस, आईएएस, आईएफएस आदि.
यह भी पढ़े-
Share on Google Plus

About hihindi

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें