Blogger द्वारा संचालित.

Child Development In India In Hindi | भारत में बाल विकास

Child Development In India In Hindi | भारत में बाल विकास
भारत में बाल विकास का प्रारम्भ सन 1930 से हुआ. इसमें सर्वाधिक कार्य व्यक्तित्व और मापन के क्षेत्र में हुआ. गर्भकालीन अवस्था एवं नवजात शिशुओं पर अध्ययन का पुर्णतः अभाव हैं. और कम आयु के बच्चों पर भी बहुत ही कम अध्ययन हुए हैं.

अधिकांश अध्ययन 10 वर्ष की आयु से अधिक के ही बालक थे. संवेग के क्षेत्र में बी. नागरथाना, के डी घोष, टी ई सनमुगम, आर वर्मा, हफीज, एच एन मूर्ति, वी के शर्मा आदि का योगदान महत्वपूर्ण हैं. एस कालरा द्वारा न्यूरोटिक बच्चों पर किया गया अध्ययन महत्वपूर्ण हैं.

बालकों की भाषा व शब्द भंडार के क्षेत्र में जी पाल, एम् एम सिन्हा, एम रानी द्वारा महत्वपूर्ण अध्ययन किये गये. एन एस चौहान, के एन शर्मा, डी एन श्रीवास्तव ने वाचिक अधिगम के क्षेत्र में अध्ययन किया वही राममूर्ति व परमेश्वरन ने अधिगम स्थानान्तरण तथा चौहान व शर्मा ने सृजनात्मकता पर अध्ययन किया.

बालकों के व्यक्तित्व से सम्बन्धित समस्याओं पर एच के मिश्रा, पारमेश, ए के मिश्रा, एन के दत्त, पी नटराज, ए एस पटेल, डी एन श्रीवास्तव इत्यादि मनोवैज्ञानिकों ने महत्वपूर्ण योगदान दिया. सागर शर्मा, के जी अग्रवाल, डी एन श्रीवास्तव, पी देव इत्यादि मनोवैज्ञानिकों ने बालकों के आत्म प्रत्यय के मापन अथवा निर्माण का अध्ययन किया हैं.

बुद्धिमापन के लिए टंडन, एम सी जोशी, जलोटा, भाटिया इत्यादि मनोवैज्ञानिकों द्वारा कुछ परीक्षण विकसित हुए इसी प्रकार व्यक्तिमापन के लिए समायोजन मापनियों का निर्माण एच. एच अस्थाना, जयप्रकाश, प्रमोद कुमार, सिन्हा व सिंह एवं श्रीवास्तव द्वारा किया गया. चिंता मापनियों का निर्माण सिन्हा, सिंह, दत्ता, पटेल व श्रीवास्तव द्वारा तथा रूचि मापनियों का निर्माण चटर्जी, सिंह, लाभसिंह, बंसल व श्रीवास्तव द्वारा किया गया.

बाल विकास व विकासात्मक मनोविज्ञान में अंतर- बाल विकास में गर्भावस्था से किशोरावस्था की प्रारम्भिक अवस्था तक की समस्याओं का अध्ययन किया जाता हैं. जबकि विकासात्मक मनोविज्ञान में गर्भावस्था से वृद्धावस्था तक का अध्ययन किया जाता हैं.
Share on Google Plus

About hihindi

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें